क्यों मनाई जाती है सायर खुद भी जानिए और सभी के साथ शेयर करें

सैर ~ सैरैं ~ सायर पर सभी हिमाचलियों को बहुत बधाई | क्यों मनाई जाती है सैर खुद भी जानिए और सभी के साथ शेयर भी कीजिये !!happy sair festival


हिमाचल प्रदेश के जिला काँगड़ा,मंडी,ऊना,हमीरपुर,कुल्लू और आसपास के अन्य इलाकों मे यह त्यौहार सितंबर महीने मे मनाया जाता है | इस दिन पूजा मे देवताओं को नई फसल, फल और मीठे पकवानों का भोग लगाया जाता है |अखरोट खेल

अखरोट से खेलना – इस दिन कुछ इलाकों मे अखरोट से एक खेल भी खेला जाता है | इसमें खिलाडी जमीन पर रखे अखरोटों को निशाना बनाता है और अगर निशाना सही लगे तो उसे सारे अखरोट मिल जाते हैं | इसी तरह अगली पारी शुरू होती रहती है शाम तक |

happy sair gameसिक्कों से खेलना – इस दिन कुछ इलाकों मे सिक्कों (Coin) से एक खेल भी खेला happy sair gameजाता है | इस खेल मे जमीन पर एक छोटा सा गड्ढा (तीन चार इंच) किया जाता है और इसके साथ एक लकीर भी खींची जाती है उस लकीर से पीछे सिक्का फेकने पर फाउल माना जाता है | फिर सभी खिलाड़ी एक एक करके सिक्का इस गड्ढे मे डालने की कोशिश करते हैं जिसका सिक्का गड्ढे मे आ गया बो अपना सिक्का बापिस ले सकता है और फिर सभी खिलाडी एक एक करके चुने हुए सिक्के पर एक छोटे ढकन के आकार(भुटे) से निशाना लगाते हैं और अगर निशाना सही लगे तो उसे सारे सिक्के मिल जाते हैं | इसी तरह अगली पारी शुरू होती रहती है | पर अब यह खेले धीरे धीरे लुप्त होती जा रही हैं !

himachal festival sair himachal festival sair
सैर मनाने के पीछे की मान्यता – कहा जाता है की इस दिन देवी देवता बापिस अपने स्थान पर लोट आते हैं बुरी शक्त्यिओं से युद्ध कर के जिन्हें हिमाचल मे डायन भी कहा जाता है !! हमने भी काफी बार सुना है पुजारीयों और गुर से की इस साल देवताओं या डायनयों की जित हुई है

इस त्यौहार को मनाये जाने का एक कारण भी है | sair festival foodबारिश का मौसम खत्म होने पर लोग भगवान को नई फसल, फल और मीठे पकवानों (बबरू मिठ्डू ) का भोग लगाकर बारिश मे उनकी रक्षा करने के लिए धन्यवाद करते हैं |

कुछ इलाकों मे बड़े -बुजुर्गों को द्रुवा देकर उनका आशिर्वाद लिया जाता है | बड़े -बुजुर्ग भी अखरोट देकर आशिर्वाद देते हैं | इस त्यौहार मे एक दूसरे से सारे मनमुटाव दूर किये जा सकते हैं |

आशा है की आपको ऊपर दी गई जानकारी अच्छी लगी | दोस्तों अगर आपके पास इस त्यौहार की कोई भी जानकारी हो तो जरूर शेयर करें !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *